Panchkula Special

7 साल बाद बनने लगी थी पीरबाबा रोड और ठेकेदार ने काम बीच में रोका

कपिल चड्ढा, पंचकूला। नगर निगम ने करीब 7 साल से कंडम अमरटैक्स रोड (भगवान परशुराम चौक) से पीरबाबा तक सड़क बनाने का काम कुछ दिन पहले शुरू किया था, जो अब कुछ टाइम के लिए स्थगित कर दिया गया है। वजह है सड़क की हालत ज्यादा खराब होना।
जिस ठेकेदार को इस सड़क की स्पेशल रिपेयर का काम अलॉट हुआ, उसने आधिकारिक तौर पर एतराज उठाया है कि निगम ने जो एस्टीमेट सरकार से अप्रूव कराया, वह करीब 2 साल पहले बना था। इस दौरान सड़क की रिपेयर नहीं हुई, लिहाजा सड़क बद से बदतर हो गई। जानकारी के अनुसार ठेकेदार का मानना है कि सड़क बनाने पर लागत ज्यादा आएगी, सो इसका एस्टीमेट भी रिवाइज होना मांगता है।

विभागीय जानकारों का कहना है कि नगर निगम ने अपने स्तर पर यह आंकलन शुरू कर दिया है कि ठेकेदार को अलॉट काम के अलावा कितना मैटीरियल अलग से डल सकता है और उसी लिहाज से अलॉट किए गए काम में थोड़ा इजाफा हो सकता है। जो भी रिपोर्ट आएगी, निगम के कमिश्नर राजेश जोगपाल के स्तर पर अप्रूवल हो जाएगी। यानी, फाइल सरकार के पास मंजूरी के लिए नहीं भेजी जानी।
सब के ध्यान में ही है कि इन दिनों पंचकूला में तीन बड़ी सड़कों की स्पेशल रिपेयर होनी है। इन्हें बने करीब 6 साल से ज्यादा हो गया है। एक सड़क पीरबाबा (सेक्टर 12ए-इंडस्ट्रियल एरिया) से लेबर चौक, नजदीक इंदिरा कॉलोनी बननी है। इस सड़क का काम शुरू होकर रुका है। दूसरी सड़क बेलाविस्टा चौक से सेक्टर 11-15 के चौक तक और तीसरी सड़क सेक्टर 4-12 से शक्ति भवन चौक तक बनने वाली है।
ताजा खबर यह है किठेकेदार ने अब बेलाविस्टा चौक से सेक्टर 11-15 की तरफ सड़क बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। मोटी बजरी की एक लेयर बिछाने के बाद सेक्टर 4-12 की सड़क पर काम शुरू किया जाएगा। यानी, अमरटैक्स चौक से पीरबाबा की तरफ बनने वाली सड़क का काम अभी बाद में शुरू होगा। वजह पहले ही साफ की जा चुकी है कि अभी नगर निगम सड़क पर डलने वाले अतिरिक्त मैटीरियल की लागत का आंकलन कर रहा है। जब तक सेक्टर 4-12 की सड़क पर मोटी बजरी की एक लेयर बिछ जाएगी, तब तक अमरटैक्स रोड की फाइल भी कमिश्नर आॅफिस से क्लीयर हो जाएगी। ुल मिलाकर अमरटैक्स रोड का काम शुरू होने में अभी एक महीना भी लग सकता है।
गौरतलब है कि जिस ठेकेदार को निगम ने अमरटैक्स रोड समेत तीन बड़ी सड़कों की स्पेशल रिपेयर का काम अलॉट किया, इसी ठेकेदार ने निगम से पहले भी शहर में कई सड़कों को बनाने का काम ले रखा है। पहले से अलॉटेड काम में अभी कई सड़कें बननी बाकी हैं। इस संदर्भ में मेयर उपिंदर आहलुवालिया ने पंचकूला सिटी न्यूज 7 के संपर्क करने पर कहा कि निगम के अफसरोंं को चाहिए कि ठेकेदार पर दबाव बनाएं कि जो सड़कें पेंडिंग हैं उन्हें भी प्राथमिकता के आधार पर बनाए। यह बात ठीक नहीं कि नए काम हाथ में पहले ले लिए जाएं और पुराने काम बीच में ही अधूरे रखे जाएं। लब्बोलुआब ये है कि पंचकूला में सड़कों की हालत बहुत दयनीय और इस बारे में बाकायदा संबंधित मंत्री कविता जैन तक को पता है।
यह सड़क अभी हुडा नर्सरी के सामने करीब 1 किलोमीटर तक एक लेयर बनी है। सेक्टर 12ए की तरफ पैच वर्क भी अधूरा छोड़ दिया गया है। इस संदर्भ में स्थानीय पार्षद लिली बावा ने हैरत जताई है कि सड़क का काम बीच में ही क्यों बंद कर दिया गया। जब काम शुरू कर दिया गया तो इसे पूरा करना ही चाहिए था। उधर, मेयर उपिंदर आहलुवालिया का कहना है कि सड़क की हालत को ध्यान में रखकर निगम को चाहिए था कि अमरटैक्स रोड (भगवान परशुराम चौक) को प्राथमिकता के आधार पर बनवाए, क्योंकि इस पर जीरकपुर साइड से चंडीगढ़ की तरफ जाने वाले ट्रैफिक का भारी दबाव भी रहता है। रही बात सड़क की कारपेटिंग की लागत में बढ़ोतरी, यह तो बाद में भी सॉल्व किया जा सकता है। निगम कमिश्नर राजेश जोगपाल को चाहिए कि शहर में सड़कों को उनकी हालत के अनुसार प्राथमिकता देकर बनवाएं। जो सड़कें अभी आवाजाही के लिहाज से थोड़ा ठीक हालत में, उन्हें थोड़ा बाद में भी बनवाया जा सकता है, लेकिन जिन सड़कों पर गड्ढे ज्यादा और आवाजाही भी अधिक रहती, उन्हें पहले बनवाना चाहिए।