पीरमुछल्ला के रास्ते बननी है सवा किमी सड़क, नए घग्गर पुल की एप्रोच 40 नहीं, 60 मीटर होगी

लोकेश चड्ढा, पंचकूला। मुख्यमंत्री हरियाणा की घोषणा के तहत घग्गर नदी पर पंचकूला में बनने वाले तीसरे पुल की आधारशिला इसी साल सितंबर तक कभी भी रखी जा सकती है। इस बीच बड़ी बात यह सामने आई है कि पुल से पीरमुछल्ला के रास्ते सेक्टर 20/21 को एप्रोच देने के लिए बनने वाली दोमार्गी सड़क अब 40 मीटर की बजाय 60 मीटर चौड़ी बनेगी।
यही सड़क सेक्टर 20/21 से पीरमुछल्ला तक गमाडा के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट पीआर-7 का पार्ट भी बनेगी। इस सड़क के लिए जीरकपुर नगर परिषद ने प्रस्ताव पारित कर दिया है। इसके लिए डीसी मोहाली ने नगर परिषद जीरकपुर को आदेश दिए थे। जानकारी के अनुसार, उपरोक्त नई डेवलपमेंट हरियाणा सरकार की तरफ से प्रधान सचिव (टाउन प्लानिंग) अपूर्व कुमार सिंह द्वारा पंजाब में सहयोगी अधिकारी ए. वेणु प्रसाद के साथ बातचीत के बाद हुई है। वेणु प्रसाद ने हरियाणा सरकार की घग्गर नदी पर पुल  बनाने के लिए पीरमुछल्ला के रास्ते सड़क बनाने की प्रोपोजल को क्लीयरेंस देने के लिए डीसी मोहाली से बात की थी। इसके बाद हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों की डीसी मोहाली से बात हो गई, जिसमें उन्होंने नगर परिषद जीरकपुर से प्रस्तावित सड़क की निशानदेही के लिए मौके पर प्राधिकरण द्वारा लगाई गई 27 बुर्जियों को वेरीफाई करने के लिए कह दिया है।
जाहिर है कि अब विचाराधीन प्रोजेक्ट तेजी से आगे बढ़ने के आसार बन गए हैं। गौरतलब है कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण पहले ही प्रस्तावित पुल और सड़क के लिए करीब 53 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट बना चुका है। अब सड़क की चौड़ाई ज्यादा तय की गई, सो प्रोजेक्ट की लागत भी बढ़ जाएगी। विचाराधीन पुल के बनने से सेक्टर 20/21 की रोड को घग्गर पुल के रास्ते सेक्टर 24/26 को सीधा लिंक मिल जाएगा। इससे जीरकपुर-अंबाला-पटियाला साइड के ट्रैफिक को रामगढ़-बरवाला-नाहन साइड जाने के लिए शॉर्टकट मिल जाएगा।
पीरमुछल्ला के रास्ते बनने वाली सड़क के लिए करीब 5 हैक्टेयर जमीन हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के हवाले की जानी है। इसके लिए पर्यावरण मंत्रालय की परमिशन नगर परिषद, वन विभाग पंजाब के माध्यम से चंडीगढ़ सेक्टर 31 स्थित आॅफिस से ही ले लेगा।

error: Content is protected (Copyright)