पंचकूला: सेक्टर 5 में बनेगी आईकोनिक बिल्डिंग, डिजाइन/सुविधाएं होंगी वर्ल्ड लेवल की

कपिल चड्ढा, पंचकूला। अमेरिका जैसे विकसित देशों की तर्ज पर पंचकूला में ‘आइकोनिक बिल्डिंग’ बनाने पर सोच-विचार हो रहा है। पंद्रह से बीस मंजिल ऊंची वर्ल्ड लेवल की यह कमर्शियल ‘ग्रीन’ बिल्डिंग सेक्टर 5 में पेट्रोल पंप के नजदीक करीब ढाई एकड़ में बनाने की प्रोपोजल है। यह प्रोजेक्ट हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण का पंचकूला के लिए ‘ड्रीम प्रोजेक्ट’ है, जो शहर की पहचान देश-विदेश में बढ़ाएगा।
इसके लिए हायर किए गए कंसल्टेंट्स के साथ एक मीटिंग पिछले सप्ताह हुई और दूसरी बुधवार को। कंसल्टेंट्स की मीटिंग प्राधिकरण के एडमिनिस्ट्रेटर (हेडक्वार्टर)गिरीश अरोड़ा की अध्यक्षता में गठित कमेटी के साथ हुई। जानकारी के अनुसार, विचाराधीन आईकोनिक बिल्डिंग लेटेस्ट कंसेप्ट्स के साथ बनेगी। इसकी लागत करीब 100 करोड़ रुपए तक भी हो सकती लेकिन यह मलकीयत प्राधिकरण की ही रहेगी। बुधवार की मीटिंग में जो कंसल्टेंट्स ने हिस्सा लिया, उनमें मल्टीनेशनल कंपनी  ईएंडवाई, जेएलएल व केपीएमजी के प्रतिनिधि शामिल थे।
यह कमेटी प्राधिकरण के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर डी. सुरेश ने पिछले दिनों गठित की थी। पंचकूला में विचाराधीन आईकोनिक बिल्डिंग की तर्ज पर एक कमर्शियल बिल्डिंग गुरुग्राम में बननी है। आईकोनिक बिल्डिंग पीपीपी मोड पर बनेगी। यानी, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के खजाने से चवन्नी भी खर्च नहीं होगी। जो डेवलपर इस बिल्डिंग को बनाएगा, वही इसका लीज/रेंट आदि वसूलेगा। उसमें से कुछ हिस्सा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को भी मिलेगा। इसके लिए प्राधिकरण डेवलपर को काम अलॉट करने के वक्त पहले ही लिखित एग्रीमेंट करेगा।
गौरतलब है कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने कई साल पहले सेक्टर 3 में करीब 20 मंजिल ऊंची बिल्डिंग बनाने की तैयारी की थी। उसमें प्राधिकरण का लोकल आॅफिस भी बनना था। बाद में ऊंचाई कम कर दी गई थी। समय बीतने के साथ उसी प्रोजेक्ट को फाइलों में ही रोक दिया गया था।

error: Content is protected (Copyright)