पंचकूला में बनेगा डबल स्टोरी ओवरब्रिज

राहत मिलेगी सेक्टर 20 के अंडरपास पर ट्रैफिक को भी
सेक्टर 12/12ए को जोड़ेगा हाईवे के ऊपर से 20/21 सड़क से

कपिल चड्ढा, पंचकूला। जी हां, पंचकूला में दिल्ली जैसे मेट्रो सिटीज़ की तर्ज पर डबल स्टोरी ओवरब्रिज बनाने की तैयारी चल रही है। यह ब्रिज सेक्टर-12/12ए की सड़क को कालका-जीरकपुर हाईवे के ऊपर से सेक्टर-20/21 की सड़क के साथ जोड़ेगा। इसका डिजाइन बन चुका और मुख्यमंत्री हरियाणा की अप्रूवल के बाद तकनीकी मंजूरी के लिए नेशनल हाईवे अथारिटी आफ इंडिया को भेजा जा चुका है। सक्षम अथॉरिटी से औपचारिक मंजूरी मिलने के बाद हरियाणा सरकार उपरोक्त प्रोजेक्ट को अपने स्तर पर बनवाने का प्रोसेस शुरू करेगी। प्रोजेक्ट करीब 100 करोड़ रुपए तक की लागत का हो सकता है। देखिए डिजाइन।
यह जानकारी हरियाणा सरकार में लोक निर्माण विभाग सहित कई विभागों के टेक्निकल एडवाइजर विशाल सेठ ने पंचकूला सिटी न्यूज7 के साथ बातचीत में दी।
उन्होंने कहा कि डबल स्टोरी ओवरब्रिज इसलिए बनाने का डिजाइन तैयार किया गया ताकि लोकल ट्रैफिक का आवागमन तो आसान बने ही, नेशनल हाईवे पर जीरकपुर-शिमला की तरफ जाने वाले ट्रैफिक को भी अलग से ट्रैक मिल सके। विशाल सेठ के अनुसार, ओवरब्रिज की फर्स्ट फ्लोर 5.5 मीटर और सेकेंड फ्लोर 15.5 मीटर पर होगी। यानी शिमला की तरफ जाने वाले ट्रैफिक और जीरकपुर की तरफ का ट्रैफिक ऊपर से चलेगा।
गौरतलब है कि पहले जो डिजाइन बना था, उसमें यू-टर्न रखा गया था जिसे तकनीकी कारणों से सही नहीं समझा गया। बाद में नए डिजाइन में क्लोव लीफ बनाया गया है। इससे लोकल व हाईवे के ट्रैफिक का आवागमन सुचारू बना रहेगा।
प्रोजेक्ट के सिरे चढ़ने पर सेक्टर 20 के अंडरपास पर आए दिन लगने वाले ट्रैफिक जाम से काफी राहत मिलेगी, क्योंकि रैली चौक से ही सेक्टर 20, 21 और पीरमुछल्ला/ढकोली साइड जाने वाला ट्रैफिक सेक्टर 20 के अंडरपास की बजाय ओवरब्रिज के रास्ते सीधे निकल जाएगा। ओवरब्रिज ‘गमाडा’ के पीआर-7 का हिस्सा बनेगा।

error: Content is protected (Copyright)