हरियाणा का वर्ष 2020-21 का बजट मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पेश किया। बतौर वित्त मंत्री यह उनका पहला बजट है। सीएम मनोहर लाल सूटकेस की जगह टैब लेकर विधानसभा पहुंचे। ऐसा करके उन्होंने पुरानी चली आ रही प्रथा खत्म की। पहले अटैची या थैला लेकर बजट पेश करने जाते थे। लेकिन टैब लाकर मनोहर लाल ने डिजिटल इंडिया के नारे को साकार है।

इस बार कुल 142343.78 करोड़ का बजट है। 2019-20 के बजट की तुलना में इस बार 7.70 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। कर्ज बढ़कर 198700 करोड़ हो गया है। बजट में इस बार कृषि, ग्रामीण विकास, शिक्षा, स्वास्थ्य व सामाजिक न्याय विभागों का फंड बढ़ाया गया है।

बजट से पहले सीएम मनोहर लाल ने ट्वीट किया कि बजट के माध्यम से शिक्षा, स्वास्थ्य, इंफ्रास्ट्रक्चर, ग्रामीण व नगरीय विकास और सुरक्षा के साथ-साथ सामाजिक सुरक्षा पर भी जोर दिया जाएगा, ताकि हरियाणा की ढाई करोड़ जनता का जीवन सुगम व सुविधायुक्त हो।