मार्केटों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए टेंडर कॉल किए नगर निगम पंचकूला  ने 

सिटी न्यूज7 , पंचकूला। नगर निगम ने चीफ इंजीनियर लेवल पर टेक्निकल सैंक्शन मिलने के बाद बुधवार को शहर की 6 बड़ी मार्केटों में सीसीटीवी कैमरों का नेटवर्क बिछाने के लिए टेंडर कॉल कर लिए हैं। ये कैमरे आॅटोमैटिक नंबर प्लेट रिकोग्नाइजेशन (एएनपीआर) और पैन-टिल्ट जूम (पीटीजेड) गुणवत्ता के होंगे। इसी के साथ ही पंचकूला नगर निगम ने चंडीगढ़ व मोहाली को पीछे छोड़ दिया है, जहां इस तरह का हाईटेक सिस्टम अब तक नहीं है, भले ही दोनों शहर कई मायनों में पंचकूला से आगे निकल चुके हैं।
निगम के ये कैमरे सेक्टर 7, 9, 10, 11, 14, 15 की मार्केट में लगाए जाने हैं। जाहिर है कि इन मार्केटों में कैमरे लगने से एक तरफ जहां पुलिस प्रशासन को क्राइम कंट्रोल में मदद मिलेगी, दूसरी तरफ मार्केट के दुकानदारों को भी राहत मिलेगी, क्योंकि कई दफा ग्राहक चोरी करके या धोखे आदि से दुकानदार को नुकसान देकर स्कूटर-कार के जरिए भागने की कोशिश करते, जो कैमरे लगने के बाद थोड़ा कम होने की उम्मीद की जा सकती है।
गौरतलब है कि मार्केटों में सीसीटीवी कैमरे लगवाने के संदर्भ में डीसीपी पंचकूला आॅफिस ने हाल ही में निगम को लिखा था कि बीते अर्से में शहर के एंट्री प्वॉइंट्स, बड़ी सड़कों, ट्रैफिक लाइट प्वॉइंट्स और आसपास के एरिया में निगम ने सीसीटीवी कैमरे लगाए जो सेक्टर 14 के पुलिस स्टेशन स्थित कंट्रोल रूम के साथ अटैच्ड हैं। उपरोक्त सिस्टम सही ढंग से काम भी कर रहा है।
लिहाजा, अब शहर की बिजी छह मार्केटों में सीसीटीवी कैमरे लग जाने से पुलिस के लिए क्राइम कंट्रोल करने में काफी मदद मिलेगी। बता दें कि इससे पहले नगर निगम शहर व आसपास के एरिया में 323 सीसीटीवी कैमरों का नेटवर्क बिछा चुका है।

शहर की छह बड़ी मार्केटों में सीसीटीवी नेटवर्क बिछाने की लागत करीब ढाई करोड़ रुपए आएगी। ये कैमरे जिले के पुलिस कप्तान कमलदीप गोयल के आग्रह पर लगाए जा रहे हैं। 
-राजेश जोगपाल, नगर निगम कमिश्नर 

error: Content is protected (Copyright)