स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, सभी अस्पतालों में बनेंगे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम

gazab india 1चंडीगढ़: हरियाणा के डॉक्टर्स को आने वाले दिनों में अदालतों के चक्करों से छुटकारा मिल जायेगा| स्वास्थ्य विभाग हरियाणा के सभी अस्पतालों में 1 वीडियोtanishq citynews7 कॉन्फ्रेंसिंग रूम तैयार करेगा जहां से विभिन्न मुकदमों में गवाही देने के लिए हरियाणा के डॉक्टरों को आसानी होगी और उन्हें अदालतों में दिनभर चक्कर नहीं काटने होंगे । इसके माध्यम से डॉक्टरों की किसी भी मुकदमे में किसी भी समय कहीं भी गवाही हो सकेगी। हरियाणा के हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज ने वीरवार को मीडिया से बात करते हुए कही
उन्होंने बताया कि राज्य की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। उसके तहत हर जिले में एम आर आई मशीन लगाई जा रही है और 9 जिलों में यह मशीनें लग भी चुकी हैं।
उन्होंने कहा कि एम आर आई पर बाजार में सामान्यत: 5000 का खर्च आता है जबकि सरकारी अस्पताल में यह मात्र 18 सौ रुपए में हो रही है। इसी तरह हर जिले में डायलसिस मशीनें और 4 जिलों में कैथ लैब भी बनाई जा रही हैं। इन 4 जिलों का चयन इस तरह से किया जाएगा जिससे आसपास के 23 अन्य जिलों के लोगों को भी इस सुविधा का लाभ मिल सके।
हेल्थ मिनिस्टर विज ने स्वीकार किया कि प्रदेश में डॉक्टरों की काफी कमी है। पिछले दिनों करीब 100 डॉक्टरों को मुख्यालयों से हटाकर फील्ड में भेजा गया है।
300 डॉक्टरों की भर्ती भी की है। अस्पतालों में स्पेशलिस्ट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराने के लिए इनका अलग से कैडर भी बनाया जा रहा है। इसके अलावा नए डॉक्टर तैयार करने के उद्देश्य से सरकार ने हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज खोलने का भी फैसला किया है। अभी 8 जिलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं, जबकि पंचकूला जींद और भिवानी में भी सरकारी मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं।

error: Content is protected (Copyright)